Best Shayari Hub

Bewafa sad shayari

अब दिल टूट ही चुका है,
तो इसे टूटा ही रहने दो।
उनका मन हमसे नहीं लगता तो,
उनसे हमे दूर ही रहने दो।

Ab dil tut hi chuka hai,
ise tuta hi rehne do.
unka man humse nahi lagta to,
unse hume dur hi rehne do.

हम हर उस इंसान से नफ़रत करते है….

हम हर उस इंसान से नफ़रत करते है,
जिससे वो मोहब्बत करते है,

वो हमारी नज़रों में हर वक्त चुभता है,
जो उनके दिल में बसता है,

हम उस है इंसान को दुश्मन समझते है,
जो उनके हमसे बेहतर दोस्त बनते है,

हमे वो हर साथ नागवारा है,
जिसने उनका हाथ थाम चलना चाहा है,

हमे वो नज़रे रास नहीं आती है,
जो उन्हे हमसे ज्यादा निहारती है,

माना कि उनपर हमारा कोई हक,

बेशक नहीं….

लेकिन वो हमारे कभी नहीं हो सकते,
ये जानकर हम उन्हे चाहना छोड़ दे,

बेशक नहीं

वो उस इंसान के साथ खुश है,
जिसे हम पसंद नहीं करते,
तो उनकी खुशी देखकर हम जले

बेशक नहीं….

लेकिन क्या उन्हे किसी ओर के साथ देख कर बी हम खुश रह सकते है,

शायद नहीं….

Latest Two Line Shayari

हम तो मासूम से लड़के है… हमारा क्या है,
तुम तो फरिश्तों को भी अपना दीवाना बना सकती हो।

Hum to maasum se ladke hai… hamara kya hai,
tum to farishton ko bhi apna deewana bana sakti ho.

सितम तो ऐसा है की हम उसे छु भी नहीं सकते,
बड़ी तमन्ना है जिसे दिल लगाने की।

Sitam to esa hai ki hum use chu bhi nahi sakte,
badi tamanna hai jise dil lagane ki.

अच्छा लगता है मेरा नाम तुम्हारे नाम के साथ,
जैसे कोई सुबह जुड़ी हो शाम के साथ।।

Achha lagta hai mera naam tumharr naam ke sath,
jaise koi subah judi ho sham ke sath.

जरुरत नहीं मुझे दुनिया के नजारो की,
मेरे लिए तुम्हारा चेहरा ही काफी है।।

Zarurat nahi mujhe duniya ke najaro ki,
mere liye tumhara chehra hi kaafi hai.

टूट गया हु अधूरे ख्वाबो के सितम देखकर,
वरना ज़माने से मोहब्बत निभाने की ख्वाहिशे
लेकर में भी निकला था।

Tut gaya hu adhure khwabo ke sitam dekhkar,
warna zamane se mohabbat nibhane ki
khwahise lekar me bhi nikla tha.

Motivational Quotes for Success

Sometime things are hard to believe
but we have to accept that.

Sad Shayari In Hindi

जब पहली दफ़ा तुम्हें देखा था मेने,
लगा ना जाने क्यों लोग दुनिया में गुम हो जाते है,
जबकि मैं तो बस तुम्हारी आँखों में ही गुम हो गया।
जैसे इस चेहरे को मुस्कान का सहारा
मिला हो और दिल को नयी बैचैनी।
सोचता हु की सारी उमर तेरी उन नजरों को ही ताकता रहू
बस तिलगी में आकर थाम लेना तू ये दामन मेरा,
आखिर कब तलक तेरी नज़रों से यु भागता रहू।।

Jab pehlu dafa tumhe
dekha tha mene,
laga na jane kyu log duniya
me gum ho jate h,
jabki me to bas tumhari aakho
me hi gum ho gya hu,
jaise is chehre ko muskan ka sahara
mila ho or dil ko nayi bechaini.
sochta hu ki saari umar teri
un nazro ko hi taakta rahu,
bas tilgi me aakar thaam le
tu ye daaman mera,
aakhir kab talak teri
nazro se yu bhagta rahu.

लगता है ख़ामोशी मज़बूरी है मेरी
पर तेरा हर सवाल अच्छा लगता है,
यूँ तो ऐसा कभी कोई दिन ना बिता
जिस दिन तेरा ख्याल ना आया हो,
अधिकतर रातों को सपनो में तेरा
कोई पैगाम ना आया हो,
सोचा था की तेरे बिन मेरा कोई वजूद नहीं है जैसे
और खो गया था तुझमे खो के खुद को ऐसे,
पर अब जब जा चुके हो तुम
जो मुझसे यूँ दूर…..
तब जाके जाना की आदत नहीं थी तेरी
सिर्फ तेरा साथ अच्छा लगता है।